22/12/2017   1 लाख 76 हजार करोड़ का घोटाला पर किसी ने किया ही नही
नई दिल्ली 2जी स्पेक्ट्रम घोटाले में गुरुवार को पूर्व दूरसंचार मंत्री ए राजा और द्रमुक सांसद कनिमोझी सहित सभी 17 आरोपियों को अदालत ने बरी कर दिया है। 2जी स्पेक्ट्रम आवंटन घोटाले पर पटियाला हाउस कोर्ट की विशेष सीबीआई अदालत ने एक लाईन का यह फैसला सुनाया है।

दरअसल कोर्ट ने तीन मामलों की सुनवाई की है, जिसमें दो सीबीआई और एक प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) का है। इससे पहले 2जी स्पेक्ट्रम घोटाले से जुड़े मामलों पर विशेष रूप से विचार कर रही अदालत ने राजा, कनिमोझी और अन्य सहित सभी आरोपियों को फैसले के लिए गुरुवार उसके सामने हाजिर रहने का निर्देश दिया था।

17 पर तय किए थे आरोप

2जी स्पेक्ट्रम घोटाले में सुनवाई छह साल पहले 2011 में शुरू हुई थी, जब अदालत ने 17 आरोपियों के खिलाफ आरोप तय किये थे। उनमें छह महीने से उम्रकैद तक की सजा का प्रावधान है।

कौन-कौन थे आरोपी

पूर्व केंद्रीय मंत्री ए राजा के अलावा डीएमके के राज्यसभा सांसद कनिमोझी, पूर्व टेलीकॉम सचिव सिद्धार्थ बेहुरा, ए राजा के तत्कालीन निजी सचिव आरके चंदौलिया, स्वान टेलीकॉम के प्रमोटर शाहिद उस्मान बलवा, विनोद गोयनका, यूनिटेक कंपनी के एमडी संजय चंद्रा, कुशेगांव फ्रूट्स एंड वेजिटेबल प्रालि के आसिफ बलवा व राजीव अग्रवाल, कलाईगनार टीवी के निदेशक शरद कुमार और सिनेयुग फिल्म्स के करीम मोरानी के अलावा रिलायंस अनिल धीरूभाई अंबानी ग्रुप के वरिष्ठ अधिकारी गौतम जोशी, सुरेंद्र पिपारा, हरि नैयर आरोपी हैं। इसके अलावा तीन कंपनियों स्वान टेलीकॉम लिमिटेड, रिलायंस टेलीकॉम लिमिटेड और यूनिटेक वायरलेस (तमिलनाडु) को भी आरोपी बनाया गया है।

राज्यसभा में जोरदार हंगामा

2-जी घोटाले पर फैसला आने के बाद राज्यसभा में विपक्ष ने जमकर हंगामा किया। इसके चलते राज्यसभा की कार्यवाही 2:00 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई हैं। विपक्ष के नेता गुलाम नबी आज़ाद ने राज्यसभा में इस मुद्दे को उठाया। गुलाम नबी आजाद ने सदन में कहा कि जिस घोटाले के कारण हमारी सरकार गई, वो घोटाला तो हुआ ही नहीं। भाजपा इस मुद्दे पर जवाब दे।

सरकार ने किया बचाव

संसद में चल रहे गतिरोध पर केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार का कहना है कि कांग्रेस पार्टी हार चुकी है, निराशा में है। इसलिए संसद में गतिरोध पैदा कर रहे हैं इससे कोई फायदा होने वाला नहीं है। उन्होंने कहा कि काम में रुकावट पैदा कर रहे हैं मैं एक बार फिर आग्रह करता हूं दोनों सदनों में चर्चा और काम में शामिल हो।

सुप्रीम कोर्ट ने मानी थी गड़बड़ी

2जी आवंटन के दौरान गड़बड़ी हुई थी, सुप्रीम कोर्ट ने भी इस प्रक्रिया को गलत माना था। 2001 के आधार पर 2007 में आवंटन किया गया था। बैंक ड्राफ्ट को एडवांस में ही तैयार किया गया था। कट ऑफ डेट एडवांस में ही तय हो गई थी।

निशाने पर तत्कालीन सीएजी विनोद राय

फैसले के बाद से कांग्रेस दिग्गजों के निशाने पर तत्कालीन कैग विनोद राय आ गए हैं। उस वक्त विनोद राय की रिपोर्ट को भाजपा ने हाथों-हाथ लिया था और इस मामले में कांग्रेस पर जमकर हमला बोला था। अब कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल और मनीष तिवारी ने विनोद राय पर राजनीतिक षड्यंत्र करने का आरोप लगाया है। बता दें कि विनोद राय को 2013 में रिटायर होने के बाद मोदी सरकार ने बीसीसीआई की प्रशासक समिति (सीओए) का प्रमुख नियुक्त किया है।


Back

गांव नाथूपुर में अवैध कब्जे हटाकर जमीन खाली कराया
अनाधिकृत निर्माणों पर निगम सख्त
नीलांचल सोसायटी ने केरल त्रासदी के लिए गुरुग्राम में चलाया सहयोग संग्रह अभियान
तीन विकास कार्यों के टेंडर को दी गई मंजूरी
बादशाहपुर के हर गांव में कराए गए काम
बार एसो. ने केरल बाढ़ पीडि़तों के लिए दिए एक लाख 51 हजार
कैरियर गाइडेंस कार्यक्रम : छात्रों को दिए गए सफलता टिह्रश्वस
नशा रोकने के लिए कदम उठा रही है सरकार
स्वच्छता पखवाड़े के तहत इंडियन ऑयल ने बांटे डस्टबीन
एसएमडी स्कूल में रक्षाबंधन मनाया गया
आदर्श पब्लिक स्कूल (एपीएस 20) में मनाया गया ईद उत्सव
पंजाब को आगे बढ़ाएगा स्टार्टअप शिखर सम्मेलन
क्या हाल मिस्टर पांचाल में कन्हैया की भूमिका निभा रहे मनिंदर सिंह इस साल रक्षा बंधन का जश्न कैसे मना रहे हैं?
मुस्कान में आरती की भूमिका निभा रहीं अरीना डे इस साल रक्षा बंधन कैसे मना रही हैं?
लूट के प्रयास का एक आरोपी काबू
सोमवार से विधानसभा में हंगामे के आसार खैहरा गुट ने विधानसभा के बाहर लगाए सरकार के खिलाफ नारे
15 साल के शार्दुल को डबल ट्रैप में रजत
रमणीक स्थल बनाए जाने के बदले में लोगों को दिया डंपिग सेंटर
अटल बिहारी वाजपेयी के नाम पर रखे जाएंगे बड़े प्रोजेक्टों के नाम
बच्चें समाज का अभिन्न अंग : रामबिलास
Copyright @ 2017.